Home भक्ति भावना आरती संग्रह श्री खाटू श्याम जी की आरती

श्री खाटू श्याम जी की आरती

khatu shyam aarti lyrics, सुबह श्याम की आरती, जय श्री श्याम हरे आरती, खाटू श्याम जी की आरती का समय, खाटू श्याम चालीसा, खाटू श्याम जी की स्तुति, खाटू श्याम जी की आरती, खाटू श्याम बाबा जी की आरती, श्याम बाबा जी की आरती, khatu shyam ji ki aarti, shyam baba ji ki aarti, shri shyam baba ji ki aarti, shri khatu shyam ji ki aarti,
Shree Khatu Shyam Ji Ki Aarti Lyrics

ॐ जय श्री श्याम हरे, बाबा जय श्री श्याम हरे। 

खाटू धाम विराजत, खाटू धाम विराजत, 

अनुपम रूप धरे॥

ॐ जय श्री श्याम हरे…, 

 

रतन जड़ित सिंहासन,

सिर पर चंवर ढुरे, बाबा सिर पर चंवर ढुरे।  

तन केसरिया बागो, तन केसरिया बागो,

कुण्डल श्रवण पड़े ॥

ॐ जय श्री श्याम हरे…॥

 

गल पुष्पों की माला,

सिर पार मुकुट धरे, सिर पार मुकुट धरे ।

खेवत धूप अग्नि पर, खेवत धूप अग्नि पर,

दीपक ज्योति जले ॥

ॐ जय श्री श्याम हरे…॥

 

मोदक खीर चूरमा,

सुवरण थाल भरे, बाबा सुवरण थाल भरे।

सेवक भोग लगावत, सेवक भोग लगावत,

ये भी पढ़ें:  जय अम्बे गौरी आरती

सेवा नित्य करे ॥

ॐ जय श्री श्याम हरे…॥

 

झांझ कटोरा और घडियावल,

शंख मृदंग घुरे, बाबा शंख मृदंग घुरे ।

भक्त आरती गावे, भक्त आरती गावे, 

जय-जयकार करे ॥

ॐ जय श्री श्याम हरे…॥

 

जो ध्यावे फल पावे,

सब दुःख से उबरे, स्वामी सब दुःख से उबरे।

सेवक जन निज मुख से, सेवक जन निज मुख से,

श्री श्याम-श्याम उचरे ॥

ॐ जय श्री श्याम हरे…॥

 

श्री श्याम बिहारी जी की आरती,

जो कोई नर गावे, प्रभु जो कोई नर गावे ।

कहत भक्त-जन बाबा, कहत भक्त-जन बाबा

मनवांछित फल पावे ॥

ॐ जय श्री श्याम हरे…॥

ये भी पढ़ें:  श्री शनिदेव जी की आरती

 

जय श्री श्याम हरे,

बाबा जय श्री श्याम हरे ।

निज भक्तों के तुमने, निज भक्तों के तुमने,

पूरण काज करे ॥

ॐ जय श्री श्याम हरे…॥

 

ॐ जय श्री श्याम हरे,

बाबा जय श्री श्याम हरे।

खाटू धाम विराजत, खाटू धाम विराजत, 

अनुपम रूप धरे॥

ॐ जय श्री श्याम हरे…॥

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here